October 28, 2020

शहरी सरकार के चुनाव का बजा बिगुल

राजधानी जयपुर की कमान होगी दो महिला महापौर के हाथ

जयपुर, 12 अक्टूबर। राजधानी जयपुर सहित प्रदेश के तीन बड़े शहरों की सरकार चुनने के लिए निर्वाचन आयोग ने चुनाव कार्यक्रम घोषित कर दिया है। इस बार जयपुर जिले में दो नगर निगमों के चुनाव होंगे, जिसमें ‘हेरिटेज नगर निगम’ और ‘जयपुर ग्रेटर नगर निगम’। खास बात ये है कि इन दोनों ही निगमों में मुखिया (महापौर) के तौर पर महिला कमान संभालेगी। गत वर्ष निकली लॉटरी में जयपुर के दोनों निगमों में महापौर की सीट महिला (ओबीसी) के लिए आरक्षित है।

207 वार्डों में भाग्य आजमा सकती है ओबीसी महिला
महापौर पद महिला (ओबीसी) के लिए आरक्षित है। दोनों नगर निगमों हेरिटेज नगर निगम और जयपुर ग्रेटर नगर निगम में क्रमश: 100 और 150 वार्ड है। इस तरह कुल 250 वार्डो में से ओबीसी महिला के लिए 18 वार्ड ही आरक्षित है। लेकिन बावजूद उसके ओबीसी वर्ग की महिला महिला उम्मीदवार के लिए दोनों नगर निगमों के 250 वार्डों में से 207 वार्डों से चुनाव लडऩे का विकल्प है। ओबीसी महिला के लिए आरक्षित 18 वार्ड के अलावा इस वर्ग से संबंधित महिला (सामान्य, सामान्य महिला और ओबीसी सामान्य के वार्डो) से भी चुनाव लड़ जीतती है तो वह महापौर की उम्मीदवार बन सकती है। महापौर का चुनाव अप्रत्यक्ष निर्वाचन प्रणाली के तहत होगा।

निगमों में यूं है महापौर उम्मीदवार बनने का विकल्प
हेरिटेज नगर निगम में 100 वार्डों में ओबीसी महिलाओं के लिए 7 वार्ड ही आरक्षित है। लेकिन 14 वार्ड ओबीसी के लिए आरक्षित है। इसके अलावा 44 वार्ड सामान्य वर्ग है और 21 वार्ड सामान्य महिलाओं के लिए आरक्षित है। ऐसे में इन सभी 86 वार्डो से महापौर के लिए ओबीसी महिला अपना भाग्य आजमा सकती है। इसी तरह जयपुर ग्रेटर नगर निगम में 150 वार्डों में ओबीसी महिलाओं के लिए सिर्फ 11 वार्ड ही आरक्षित है। हालांकि महापौर के लिए ओबीसी महिलाएं 121 वार्डों से अपना भाग्य आजमा सकती है। क्योंकि इनमें 59 सामान्य, 30 वार्ड सामान्य महिलाओं और 21 वार्ड ओबीसी व 11 वार्ड ओबीसी महिलाओं के लिए आरक्षित है।