Fri. Aug 7th, 2020

शिवसेना की बदली जुबान

फडणवीस अनुभवी नेता हैं…

मुंबई, 18 जुलाई (एजेंसी)। महाराष्ट्र में इन दिनों आमतौर पर बीजेपी के नेता हमेशा शिवसेना के निशाने पर रहते हैं। खासकर विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना के नेताओं के बीच लगातार आरोप-प्रत्यारोप का दौर चलता रहता है लेकिन अचानक से शिवसेना के सुर बदलते दिख रहे हैं। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में फडणवीस की जमकर तारीफ की है। लेख में फडणवीस के उस बयान की तारीफ की गई है, जिसमें उन्होंने पूर्व मंत्री गिरीश महाजन के कोरोना पॉजिटिव होने पर सरकारी या बीएमसी अस्पताल में एडमिट होने की इच्छा जताई थी। संपादकीय में लिखा है, फडणवीस का एक भावनात्मक और दिल को छू लेने वाला बयान आया है। उन्होंने अपने खास सहयोगी गिरीश महाजन से निवेदन किया, ‘गिरीश, अगर मुझे कोरोना आदि कुछ हो गया तो एक काम करना, कुछ भी हो जाए मुझे सरकारी अस्पताल में ही भर्ती करना। फडणवीस की इस भावनात्मक अपील की वाहवाही के बजाय टीका-टिप्पणी हो रही है और खिल्ली उड़ाई जा रही है। यह ठीक नहीं है। राज्य सरकार के काम में कमी या सुधार की जरूरत हो तो उस पर फडणवीस बोलते हैं, जो विपक्ष के नेता का काम है। फडणवीस अनुभवी नेता हैं।