Wed. Apr 24th, 2019

शोपियां में सुरक्षाबलों-आतंकियों के बीच मुठभेड़, दो आतंकी ढेर

इलाके में और भी आतंकी छिपे होने की सूचना

श्रीनगर, 13 अप्रैल (एजेंसी)। जम्मू-कश्मीर में सेना का ऑपरेशन ऑल आउट लगातार आतंकियों का सफाया कर रहा है। दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में शनिवार सुबह सेना ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया। गहंड इलाके में सेना को दो से तीन आतंकियों के घिरे होने की सूचना मिली थी। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में शनिवार को सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ चल रही है। इसमें सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया है। अभी भी कुछ और आतंकियों के छिपे होने के समाचार हैं। सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है। मिली जानकारी के अनुसार, सुरक्षाबलों को शोपियां में कुछ आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। इस पर सेना ने सर्च ऑपरेशन प्रारंभ कर दिया। इसके बाद सुरक्षाबलों को देखते ही आतंकियों ने फायरिंग करना प्रारंभ कर दिया। सेना के जवान भी आतंकियों को मुहंतोड़ जवाब देकर दो आतंकियों को मार गिराया।

पुंछ में पाक सेना ने की भारी गोलाबारी, 4 घायल
पाकिस्तानी सेना ने शुक्रवार को पुंछ जिले के साब्जियां सेक्टर में भारी गोलाबारी की। रहवासी इलाकों पर दागे गए गोलों से दो युवतियों सहित चार लोग घायल हो गए। भारतीय सेना ने भी पाक सेना की गोलाबारी का जमकर जवाब दिया। इसके बावजूद देर शाम तक पाक गोलाबारी जारी रही। पुंछ जिले में पहले चरण के अंतर्गत गुरुवार को हुए मतदान में 70.40 फीसद वोटिंग हुई थी। सीमांत लोगों की चुनाव में भारी भागेदारी से तिलमिलाकर पाकिस्तान ने शुक्रवार सुबह 8 बजे ही साब्जियां सेक्टर में भारी गोलीबारी शुरू कर दी। इस पर भारतीय जवानों की ओर से भी जोरदार जवाबी कार्रवाई की गई। पाक सेना ने साब्जियां सेक्टर के दस से ज्यादा गांवों को निशाना बनाकर गोलाबारी की। इस गोलाबारी में चार लोग घायल हो गए। इनमें तस्वीर अख्तर, शबीना अख्तर और मुहम्मद इसाक घायल हो गए। तीनों छपरियां गांव के निवासी है। तीनों घायलों को उपचार के लिए उप जिला अस्पताल मंडी लाया गया, जहां पर शबीना की गंभीर हालत को देखते हुए उसे प्राथमिक उपचार के बाद राजकीय मेडिकल कॉलेज जम्मू रैफर कर दिया गया है। वहीं, इस गोलाबारी में पत्रकार रमेश बाली भी घायल हो गए। गोलाबारी से नियंत्रण रेखा पर तनाव बना हुआ है।

दो साल बाद साब्जियां में पाक ने की गोलाबारी
पाक सेना ने दो साल के बाद साब्जियां सेक्टर को निशाना बनाकर गोलाबारी की है। दो साल पहले पाक सेना ने इस सेक्टर में भारी गोलाबारी की थी, जिससे क्षेत्र के लोगों का काफी नुकसान हुआ था। कई दुकानें जल गई थी और कई वाहन क्षतिग्रस्त हुए थे। कई लोग भी घायल हो गए थे।