September 25, 2020

सरपंच, उप सरपंच और पंच चुनाव के लिए आयोग ने बनाए नए नियम

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 4 सितम्बर। राज्य निर्वाचन आयोग ने कोरोना महामारी से बचाने के लिए प्रदेश में प्रस्तावित 3 हजार 850 ग्राम पंचायत चुनाव के लिए मतदाता और प्रत्याशियों के लिए गाइडलाइन बनाई है। आयोग ने संबंधित जिलों के कलेक्टरों को सख्त हिदायत के साथ गाइडलाइन भेज दी है। गाइडलाइन का पालन नहीं होने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 के तहत विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी। नए नियमों के तहत अब हर वोटर को वोट डालते वक्त मास्क लगाना अनिवार्य होगा। प्रत्याशी को भी बिना मास्क नामांकन के लिए निर्वाचन अधिकारी के कक्ष में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। प्रत्याशियों के जुलूस और प्रचार पर भी कोविड-19 प्रोटोकॉल की सख्ती लागू की गई है।

55 साल से अधिक तो चुनावी ड्यूटी नहीं
गाइड लाइन में कहा गया है कि 55 वर्ष से अधिक आयु के कार्मिकों को यथासंभव मतदान कार्य में नहीं लगाया जाए। हालांकि उन्हें आरक्षण में रखा जा सकता है। संक्रमण की आशंका वाले गंभीर रोग ग्रसित कार्मिकों की ड्यूटी भी नहीं लगाई जाएगी। इसके लिए मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट मान्य होगी। गर्भवती महिलाएं और धात्री माताओं को भी चुनाव में नहीं लगाया जाएगा।

ये प्रमुख प्रावधान भी किए

  • हर निर्वाचन कर्मी के लिए आरोग्य सेतु एप का अनिवार्य का उपयोग अनिवार्य है
  • प्रशिक्षण स्थल, मतदान केंद्रों के स्थान पर थूकना मना
  • पंचायत समिति स्तर पर स्वास्थ्य अधिकारी होगा नोडल अधिकारी
  • नामांकन में प्रत्याशी के साथ एक व्यक्ति को प्रवेश की अनुमति
  • निर्वाचन अधिकारी हर प्रत्याशी को नोटिस देगा की जुलूस, रैली में गाइड लाइन का उल्लंघन हुआ तो आपदा प्रबंधन कानून में कार्रवाई होगी।