September 24, 2020

सवाई मानसिंह अस्पताल में बनेगा 15 मंजिला आईपीडी और कार्डियक सर्जरी सेंटर

स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत करवाया जाएगा काम, स्वायत्त शासन और चिकित्सा मंत्री ने किया मौके का निरीक्षण

जयपुर, 15 सितम्बर। प्रदेश के सबसे बड़े चिकित्सालय सवाई मानसिंह अस्पताल में करीब 200 करोड़ की लागत का 15 मंजिला आईपीडी टावर और कार्डिअक सर्जरी सेंटर विकसित किया जाएगा। जिससे मरीज को एक ही छत के नीचे परामर्श और जांच से लेकर ऑपरेशन सहित अन्य सभी सुविधाएं मुहैया करवाई जा सकेंगी। ये पूरा काम स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत होगा। स्वायत्त शासन मंत्री शांतिलाल धारीवाल और चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा सहित स्मार्ट सिटी, सवाई मानसिंह चिकित्सालय, जेडीए के अधिकारियों ने कल इस प्रोजेक्ट की रूपरेखा जानने के लिए सवाई मानसिंह अस्पताल परिसर व उसके आस-पास के क्षेत्र का निरीक्षण भी किया।
सवाई मानसिंह अस्पताल के अधीक्षक डॉ. राजेश शर्मा ने बताया कि 1947 में बने इस अस्पताल में अत्याधुनिक सुविधाओं की काफी कमी महसूस की जा रही थी। वर्तमान में जहां कॉटेज वार्ड बने हैं, वहां 15 मंजिला आईपीडी टावर का निर्माण करवाने की योजना है। उन्होंने बताया कि इस टावर में 150 कॉटेज वार्ड बनाए जाएंगे, इसमें 100 क्यूबिकल और 50 वीआईपी कॉटेज होंगे। चिकित्सा मंत्री ने बताया कि इस बहुमंजिला टावर के एक मंजिल पर ही ऑपरेशन थियेटर, पोस्ट ऑपरेशन थियेटर, आईसीयू वार्ड, एमआरआई, सीटी स्कैन के उपकरण, कैफेटेरिया और डॉक्टर्स के चैंबर भी होंगे। इस मौके पर स्वायत्त शासन मंत्री धारीवाल ने आश्वस्त किया कि इस प्रोजेक्ट के लिए 200 करोड़ का बजट तय किया है और आगे भी बजट की कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी।

ये होगा आईपीडी टॉवर में
नए विभागों के रूप में न्यूक्लियर मेडिसिन, स्पोट्र्स मेडिसिन, जैनेटिक मेडिसिन, ट्रॉपिकल मेडिसिन बनाए जाएंगे। हर फ्लोर सेल्फ सफिशियेंट फ्लोर होगी। वहीं एसएमएस गल्र्स हॉस्टल के पास इंस्टिट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी सेन्टर का निर्माण किया जाएगा, जिसे वर्तमान इमरजेंसी से जोड़ जाएगा। इसके भूतल पर विभिन्न प्रकार की जांचों का केन्द्र बनाया जाएगा।

ट्रोमा सेंटर का होगा विस्तार
ऑर्थोपेडिक ट्रोमा सेन्टर की कनेक्टीविटी सवाई मानसिंह चिकित्सालय के मुख्य भवन से की जाएगी। इसके लिए अलग से रास्ता तलाशने की तैयारी भी शुरू हो गई है। सुपर स्पेशलिटी सेंटर के लिए चिकित्सालय मार्ग पर स्थित सरकारी बंगला नंबर 2 से 5 तक के सभी बंगलों को सवाई मानसिंह चिकित्सालय में सुविधा विस्तार में उपयोग लेने की तैयारी भी है। हालांकि इसके लिए सरकार को लिखा जाएगा। ट्रोमा सेन्टर के अण्डर ग्राउण्ड में पानी भरने की समस्या का भी निस्तारण किया जाएगा। इसके अलावा अस्पताल स्थित मोर्चरी (मुर्दाघर) को भी आधुनिक स्वरूप दिया जाएगा। इसके अलावा अस्पताल के उत्तर-पूर्व में स्थित कचराघर को भी हटाकर वहां सर्वधर्म प्रार्थना सभा का निर्माण किया जाएगा।