September 23, 2020

साल का सबसे बड़े दिन, सबसे बड़ा सूर्यग्रहण

आज से सूर्य का दक्षिणायन में प्रवेश

जयपुर, 22 जून। आषाढ़ कृष्ण अमावस्या पर रविवार साल का सबसे बड़ा दिन है। वहीं सबसे छोटी रात रही। दिन 13 घंटे 42 मिनट का रहा, वहीं रात 10 घंटे 19 मिनट की रही। इस दिन साल का सबसे बड़ा सूर्यग्रहण भी हुआ, जिसकी अवधि 5 घंटा 48 मिनट रही, हालांकि जयपुर में सूर्यग्रहण की अवधि 3 घंटा 28 मिनट रही। कहीं—कहीं यह सूर्य ग्रहण कंकण आकृति में दिखाई दिया। कंकण सूर्यग्रहण का नजारा गंगानगर के घड़साना, सूरतगढ़, हरियाणा में सिरसा व कुरूक्षेत्र और उत्तराखण्ड में देहरादून व जोशीमठ आदि स्थानों से दिखाई दिया। ज्योतिषाचार्यो ने बताया कि तड़के 3 बजकर 15 मिनट पर सूर्य का दक्षिणायन में प्रवेश हुआ। सूर्योदय सुबह 05 बजकर 37 मिनट पर हुआ, सूर्यास्त शाम 7 बजकर 19 मिनट पर हुआ। ऐसे में दिनमान 13 घंटे 42 मिनट रहा, जबकि रात 10 घंटे 19 मिनट की रही। अब धीरे—धीरे दिन छोटे होने और रातें बड़ी होना शुरू होगी, यह क्रम 22 दिसम्बर तक चलेगा। 22 दिसम्बर को सबसे छोटा दिन होगा और सबसे बड़ी रात होगी। सूर्य ग्रहण के दौरान 6 ग्रह वक्री रहे। गुरु, शनि, शुक्र, बुध वक्री रहे, वहीं राहु और केतु उलटी चाल चलते हैं, ऐसे में ग्रहणकाल के दौरान ये 6 ग्रह वक्री रहे।