September 28, 2020

सीमा पर सुरक्षा बढ़ाई

चीन से बढ़ते विवाद के बीच चौकस भारत

नई दिल्ली, 3 सितम्बर (एजेंसी)। चीन के साथ बढ़ते विवाद के बीच भारत अब अपनी पूर्वी सीमा पर सुरक्षा बलों की संख्या बढ़ा रहा है। 15 जून को भारत और चीन के सैनिकों के बीच लद्दाख में कई दशकों की सबसे हिंसक झड़प हुई थी। इसके बाद ही दोनों देशों के बीच तनाव के हालात ज्यादा बढ़ गए। भारत ने सीमाओं की संप्रभुता के लिए कठोर रवैया अख्तियार किया है और चीन को स्पष्ट शब्दों में संदेश दिया है।

सैनिकों की बढ़ाई संख्या
अरुणाचल प्रदेश में सुरक्षा बलों की संख्या बढ़ाए जाने के मद्देनजर यह माना जा रहा है कि चीन के साथ सीमा विवाद अभी लंबा खिंच सकता है। एक रिपोर्ट के मुताबिक अरुणाचल प्रदेश के एक अधिकारी ने बताया है कि सुरक्षा बलों की संख्या बढ़ाई गई है लेकिन चीन की तरफ से सीमा अतिक्रमण के प्रयास जैसी अभी कोई खबर नहीं है। उन्होंने कहा है कि गलवान घाटी की घटना के बाद से ही भारत की तरफ से एहतियातन सुरक्षा बलों की संख्या बढ़ाई जाने लगी थी। अरुणाचल प्रदेश 1962 में हुए भारत-चीन युद्ध का मुख्य केंद्र था। एक्सपट्र्स ने एक बार फिर चेताया है कि यहां पर चीन की तरफ से फिर अतिक्रमण के प्रयास किए जा सकते हैं। हालांकि सैनिकों की संख्या बढ़ाए जाने को लेकर सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि ऐसा रेगुलर एक्सरसाइज के तहत किया जा रहा है।

विदेश मंत्रालय का जवाब: भारतीय विदेश मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि वह सीमा विवाद को लेकर शांति बनाए रखने के दृढ़ है। मंत्रालय की तरफ से साफ कहा गया कि 29-30 अगस्त की रात को लद्दाख के पैंगोंग लेक इलाके में चीनी सेना द्वारा उकसाऊ प्रयास किए गए जिसका भारतीय सैनिकों ने जवाब दिया। भारत ने कहा है कि चीन सीमा समझौतों का उल्लंघन कर रहा है।

पबजी सहित चीन के 118 एप्स पर पाबंदी
इस बीच चाइनीज एप्स के खिलाफ एक बार फिर से सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए लोकप्रिय गेम पबजी समेत 118 चाइनीज एप्स पर बैन लगा दिया है। इससे पहले सरकार ने 15 जून को 57 चीनी एप्स को बैन कर दिया था और इसके बाद 47 एप्स पर प्रतिबंध लगाया गया। चाइनीज एप्स को भारत में तीसरी बार बड़ा झटका लगा है। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए बयान में बताया गया है कि ये सभी 118 मोबाइल ऐप्स भारत की संप्रभुता और अखंडता,भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए खतरा थे। भारतीय यूजर्स की सिक्योरिटी को ध्यान में रखते हुए इन ऐप्स को बैन किया गया है। बैन किए गए ऐप्स में पबजी के अलावा बायडू और एपीयूएस आदि कई ऐसे ऐप्स शामिल हैं जिनका इस्तेमाल भारतीय यूजर्स के बीच काफी किया जाता है।