October 28, 2020

31 अक्टूबर से पहले कराने होंगे चुनाव

  • सुप्रीम कोर्ट से सरकार को राहत नहीं
  • नगर निगम चुनाव

सांध्य ज्योति संवाददाता
जयपुर, 8 अक्टूबर। राजधानी जयपुर सहित जोधपुर और कोटा के 6 नगर निगमों के चुनाव टालने के लिए दायर राज्य सरकार की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट ने आज कोई राहत देने से इनकार कर दिया है। न्यायाधीश ए.एम. खानविलकर, दिनेश माहेश्वरी और संजीव खन्ना की विशेष बेंच ने राजस्थान सरकार की चुनाव टालने की याचिका नामंजूर कर दी। हाईकोर्ट ने पिछले दिनों राज्य सरकार का चुनाव टालने का आग्रह अस्वीकार कर 31 अक्टूबर तक तीनों शहरों के निगमों में चुनाव कराने का आदेश दिया था। इस पर राज्य सरकार ने इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की शरण ली थी । राज्य सरकार का कहना था कि कोरोना के कारण चुनाव टाले जाए लेकिन अब सरकार को 31 से पहले चुनाव करवाना होगा।

निर्वाचन आयोग तैयार: राज्य निर्वाचन आयोग निगमों के चुनाव के लिए पूरी तरह से तैयार है। आयोग ने कानून व्यवस्था को लेकर गृह विभाग और पुलिस-प्रशासन साथ मीटिंग भी कर ली है। आयोग से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि हाईकोर्ट के आदेश के तहत हम चुनाव कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं । कोरोना प्रोटोकॉल सबंधी पालन के लिए सरकारी मशीनरी को चुस्त-दुरुस्त किया गया है ताकि निगम चुनाव में किसी प्रकार के अप्रिय हालात का सामना नहीं करना पड़। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में ग्राम पंचायत चुनाव का आखिरी चरण 10 अक्टूबर को होना है। उसके बाद आयोग कभी भी जिला परिषद, पंचायत समितियों और नगर निकायों के चुनाव की घोषणा कर सकता है।