September 21, 2020

बदल दीजिए सलाद का तरीका

आमतौर पर हम कच्चे फलों और सब्जियों की सलाद खाना पसंद करते हैं। लेकिन बरसात के मौसम में अपने इस शौक को थोड़ा-सा बदल लेना चाहिए। सलाद तो इस मौसम में भी खानी है क्योंकि हमें स्वस्थ रहना है और शरीर में फाइबर की मात्रा की पूर्ति करनी है। बरसात के समय में सलाद को उबालकर बनाना चाहिए। आप जिन कच्चे फल या सब्जियों की सलाद खाना चाहते हैं, उन्हें अच्छी तरह धुलकर बॉइल कर लें। इसके बाद अपने मन-पसंद तरीके से इनकी सैलेड तैयार करें। सब्जियों को उबालकर सलाद बनाने से आप बरसात के कारण सब्जियों में पनपनेवाले फंगस और बैक्टीरिया से तो बचेंगे ही, साथ ही कैटरपिलर्स (सब्जियों और पत्तों में होने वाले कीड़े) और उनके एग्स से भी आपका बचाव होगा। क्योंकि बारिश के मौसम में कैटरपिलर्स फल और सब्जियों के अंदर अपने एग्स देते हैं। जिनसे हमारे शरीर में बीमारी पनपने का खतरा बना रहता है। किसान अपनी फल और सब्जी की फसलों को कीटों से बचाने के लिए बरसात के मौसम में अक्सर पेस्ट्रिसाइट्स का छिड़काव करते हैं। इस कारण सब्जियों में विषैले तत्वों की मात्रा बहुत अधिक होती है। ऐसे में अगर इन्हें कच्चा खाया जाए तो पेट दर्द और लूज मोशन की समस्या हो सकती है। अंकुरित खाने का तरीका बरसात के दौरान सिर्फ खेत से आनेवाली सब्जियों से ही बीमारियां फैलने का खतरा नहीं होता है बल्कि घर में स्टोर की गई सूखी दालें और मेवों में भी नमी के कारण फंगस और कीटों का डर होता है। इसलिए अंकुरित खाने के शौकीन लोगों को बारिश के इस मौसम में स्प्राउट्स भी उबालकर ही तैयार करने चाहिए। खास बात यह है कि इस तरह स्प्राउट्स तैयार करने से आपका टेस्ट तो बदल ही जाएगा साथ ही आपका डायजेशन भी अच्छा होगा।