Fri. Mar 22nd, 2019

छोटी काशी में छाया फागोत्सव का रंग मंदिरों में सजाई झांकी

जयपुर, 11 मार्च। छोटी काशी कहे जाने वाली गुलाबी नगरी में फागोत्सव की धूम मची हुई है। शहर के मंदिरों में फाग का रंग परवान पर नजर आ रहा है। इसी कड़ी में सिरह ढ्योडी स्थित रामचंद्रजी के मंदिर में दिव्य ज्योति जागृति संस्थान की ओर से फागोत्सव मनाया गया। ठाकुरजी का मनमोहक शृंगार किया गया। इस दौरान फाग के भजनों पर भक्तों ने जम कर नृत्य किया। इसके बाद भक्तों ने ठाकुरजी संग फूलों की होली खेली। साध्वी तनुजा भारती ने कहा होली पर्व बहुत ही पावन पर्व है। होली अर्थात् आत्मा का परमात्मा के साथ एकीकरण का पर्व है। होली जहां दिव्या प्रेम की खुशबू है। जहां ईश्वर से अंतरंग संबंध है जहां अंधविश्वास नहीं बल्कि अनंत विश्वास है, जैसे भक्त प्रहलाद का था। सत्य की असत्य पर विजय का प्रतीक है होली का रंग।

राज राजेश्वरी का सजा दरबार
बंध की घाटी स्थित मंदिर माताजी श्री राज राजेश्वरी में महंत मदन पुरी, बद्री पुरी, महेश पुरी व अमर पुरी के सानिध्य में फाग उत्सव मनाया गया। इस मौके पर माताजी का शृंगार कर मनमोहक झांकी सजाई गई। स्थनीय कलाकारों ने फाग के भजनों से माता को रिझाया। व्यंजनों का भोग लगाने के बाद आरती की गई। उत्सव में सर्व ब्राह्मण महासभा के महामंत्री पं. विष्णुदत्त शर्मा, दस नाम गोस्वामी समाज के जिला अध्यक्ष अमर पूरी गोस्वामी रोहित जोशी चम्पालाल, चौधरी गोविंद शर्मा, कलेक्ट्री कर्मचारी संघ के अध्यक्ष महेश निर्मल, आचार्य घनशाम शर्मा सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे। भाव गढ़ बंध्या स्थित सीतारामजी के मंदिर में भी फागोत्सव मनाया गया। भजन गायकों ने फाग के भजनों की प्रस्तुति दी। इस दौरान ठाकुरजी के साथ फूलों की होली खेली गई।

ठाकुर जी की रचना झांकी देखने पहुंच श्रद्धालु
शहर के प्रमुख आराध्य देव गोविंददेवजी के होली महोत्सव का उत्साह देखते ही बन रहा है। रविवार को बड़ी संख्या में श्रद्धालु ठाकुरजी की रचना झांकी दर्शन करने पहुंचे। फागोत्सव के अन्तर्गत रविवार को रचना झांकी दर्शन में चैतन्य महाप्रभु और श्रीकृष्ण प्रेम समर्पण लीला दर्शन हुए। श्री राधे रानी मंडल समिति का दसवां फागोत्सव रविवार को गोविंद देवजी मंदिर के सत्संग भवन में मनाया गया। मंदिर के महंत अंजन कुमार गोस्वामी ने फागोत्सव का शुभारंभ किया। श्याम प्रभु का दरबार सजाकर अनेक कलाकारों ने फाल्गुनी भजनों की प्रस्तुतियां दीं। फूलों की होली के साथ श्रद्धालुओं ने फागोत्सव का आनंद लिया। वहीं श्री वैष्णव मंडल, जयपुर की ओर से श्रीमन नारायण नाम संकीर्तन में भी फाल्गुनी रंग छाया रहा। संस्था गत 17 साल से हर रविवार को अलग-अलग जगहों पर संकीर्तन का आयोजन करती है। रविवार को 858 वां आयोजन था। दूसरी ओर श्री चमत्कारेश्वर महादेव सेवा समिति अग्रवाल फार्म मानसरोवर का फागोत्सव, भजन संध्या का आयोजन रविवार को मुहाना रोड स्थित श्याम मंदिर वृंदावन धाम में किया गया। सुबह अग्रवाल फार्म मानसरोवर स्थित चमत्कारेश्वर महादेव मंदिर से निशान यात्रा रवाना होकर आयोजन स्थल पहुंची। समिति के कोषाध्यक्ष सतीश नागौरी ने बताया कि दोपहर सवा दो से शाम सवा सात बजे तक फागोत्सव का आयोजन किया गया।