Wed. Sep 18th, 2019

बेहद खतरनाक हो सकती हैं ये दवाइयां

कई लोग बिना सोचे-समझे अपने मन से ही दवाइयां खरीद लेते हैं और उसे दर्द को कम करने के लिए खा लेते हैं। बिना डौक्टर की सलाह के खुद से दवाई लेना हमारी हेल्थ के लिए सबसे बड़ी गलती होती है। वहीं कई दवाइयों के बारे में हमारी गलत सोच भी हमारी हेल्थ को नुकसान पहुंचा देती हैं। आज हम आपकी इस दवाइयों की गलत सोच को बदलने के लिए कुछ दवाइयों के बारे में बताएंगे, जिसे आप डेली लाइफस्टाइल में बिना कुछ सोचे समझे इस्तेमाल कर लेते हैं। जानें कौन सी हैं ये दवाएं-

नींद की गोलियां में होता है ड्रग : आमतौर पर नींद की गोलियां अत्यधिक नशीली होती हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह हमारे दिमाग की हरकातों पर प्रभाव डालती हैं। यह दवाई मनुष्य की पूरी दिनचर्या को खराब कर देती है। साथ ही लगातार यह दवाई खाने से शरीर पर धीरे-धीरे इसका प्रभाव कम होने लगता है, जिससे हाई डोज़ की दवाई खानी पड़ जाती है। इसके लगातार सेवन से अवसाद भी हो जाता है।

नेचुरल डाइजेशन को बिगाड़ सकती है ऐन्टैसड / ऐन्टैसिड :
यह दवाई जो आप पेट खराब होने पर लेते हैं, आपको फायदे की जगह पर नुकसान पहुंचा सकती है। इसको अगर कभी-कभी लिया गया तो ठीक वरना यह आपके नेचुरल डाइजेशन को खराब कर सकती है। फिर आपका शरीर जरुरी पोषक तत्व को ठीक से ग्रहण नहीं कर पाएगा, जिससे किडनी में स्टोन, पाइल्स और पेट का अल्सर होने की संभावना होती है।

कोल्ड की मेडीसिन हो सकती है खतरनाक: आमतौर पर सारी ही सर्दी और जुखाम की दवाइयां बच्चों के लिये खतरनाक होती हैं। यह फेफडो़ को प्रभावित करती हैं। अगर इन दवाइयों का ओवरडोज़ हो जाए तो साइड इफेक्ट हो सकता है और शायद मृत्यु भी।

सिरदर्द की दवा से रहें बचकर: हो सकता है कि इन दवाओं को खाने से तुरंत राहत मिल जाए लेकिन यह दवाएं आगे चल कर बहुत परेशानी खड़ी कर सकती हैं। इसलिये कोशिश कीजिये कि दवा ना खाएं और सिर की मसाज ले लें।

डिप्रेशन की दवा के हैं कई साइडइफेक्ट: इस दवा के भी कई खतरनाक साइड इफेक्ट होते हैं। यह दवाई मस्तिष्क के एक क्षेत्र पर प्रभाव डालती है जो कि सेरोटोनिन और ग्लूकोज लेवल को नियंत्रित करता है। यही कारण है कि आप इस दवाई का सेवन करने से मोटे होते चले जाते हैं।