Sat. Jan 25th, 2020

अकेले सफर में कुछ ऐसे करें प्लानिंग

अकेले सफर पर जानें से पहले कईं बाते जरूरी होती है, जिनमें बजट बहुत जरूरी है। इसीलिए आज हम आपको अकेले सफर पर निकलने से पहले कैसे करें बजट प्लानिंग के बारे में बताएंगे।

बजट बनाएं
सब से पहले एक बजट बनाएं कि आप परिवहन, होटल और भोजन में कितना खर्च करेंगे। आप कितने रूपए ले कर चलेंगे और किस तरह की चीज़ें खरीदने में कितना लगाएंगे।

जाने की तैयारी
निकलने से पहले अपने वीसा रिक्वायरमेंट्स और करेंसी एक्सचेंज के बारे में क्लियर हो जाएं। अपने पासपोर्ट की एक्सपायरी डेट जांच लें। देख लें कि हर जरुरी चीज़ और डाक्यूमेंट्स रख लिए हैं या नहीं।

हल्का सामान रखें
व्हील्स वाले ब्रीफ़केस या पि_ू बैग्स में बहुत जरूरी सामान ही रखें। ज्यादा सामान ले कर अपना भार न बढ़ाएं। इस से आप को हर जगह कुली बुलाने का झंझट नहीं रहेगा।

मैप का अध्ययन
मैप के जरिए पहले से यह समझ कर निकलें कि आप अपना समय कैसे विभाजित करेंगे। कहांकहां घूमने जाएंगे और कितने समय में लौट कर वापस आएंगे। आप को इस बात का अंदाजा लगा लेना चाहिए कि सुरक्षा के मद्देनजर कौनकौन सी जगह जाना सही नहीं होगा।

टिकट बुक करें
अपनी फ्लाइट/ट्रेन की टिकट पहले से बुक कर लें। होटल तक जाने के लिए कैब भी पहले से बुक करें। आप को कहाँ ठहरना है इस के लिए भी पहले से रिसर्च कर सही होटल चुनें ताकि बाद में दिक्कत न हो। नए शहर में जिस के बारे में आप कुछ भी नहीं जानते, ठहरने की व्यवस्था करना काफी तनावपूर्ण होता है। मजबूरी में जब कोई और मनमाफिक जगह नहीं मिल रही होती है तो आप को जहां जगह मिलती है वहीं ज्यादा पैसे दे कर भी ठहरना पड़ता है।

एयरपोर्ट/ स्टेशन समय से पहले पहुंचे
जब आप कहीं के लिए निकलते हैं तो यह किसी को पता नहीं होता कि कहां ट्रैफिक जाम मिल जाए या कहां लंबी लाइन में खड़ा रहना पड़ जाए। इसलिए बेहतर होगा कि आप समय ले कर ही निकलें।

पहले दिन शहर को जानें
अपने सफर के पहले दिन आप की प्राथमिकता शहर को जानने की होनी चाहिए। बस कनेक्शंस समझें। वहां के स्ट्रीट फूड्स और मार्केट्स के बारे में जानकारी लें।

अकेलों के लिए ठहरने के सस्ते विकल्प

काउचसर्फिंग
कितना अच्छा हो अगर आप किसी अनजान जगह घूमने जा रहे हों और वहां किसी स्थानीय व्यक्ति के घर में ठहरने को मिल जाए। उस परिवार के साथ आप एक ही साथ बैठ कर खाना खाएं। बातें करें। वह अपनी गाड़ी में आप को अपना शहर दिखाए और यह सब एकदम फ्री हो। यह संभव है काउचसर्फिंग से। काउचसर्फिंग एक सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट है जिस के सदस्य एकदूसरे के घर में बतौर मेहमान ठहर सकते हैं या किसी यात्री को अपने घर ठहरा सकते हैं। मान लीजिये आप को कहीं जाना हो तो आप उस शहर में उपलब्ध काउचसर्फिंग सदस्यों को खोज सकते हैं। उन से संपर्क स्थापित कर सकते है और अगर वे अनुमति दें तो उन के यहाँ रुक भी सकते हैं। इस प्रकार किसी स्थानीय व्यक्ति के साथ रुकने पर उस नई जगह में भी अपनापन लगेगा और सहूलियत भी होगी। साथ ही महंगे होटलों में रुकने के पैसे भी बच जायेंगे।बस जरुरत है इस वेबसाइट पर अपना एक अकाउंट बनाने की।

हॉस्टल
अकेले घूमने वालों के लिए दुनिया के कई देशों में ठहरने के सस्ते विकल्प मौजूद हैं जिन्हें हॉस्टल कहा जाता है। इन हॉस्टलों में होटलों की तरह सुखसुविधाएं तो नहीं होतीं लेकिन साफसुथरे कमरे, बिस्तर, वॉशरूम, खाना बनाने के लिए छोटा सा किचन जैसी बुनियादी सुविधाएं मिल जाती हैं। यही नहीं अच्छे होस्टलों में फ्री वाईफाई की सुविधा भी होती है। सोने के लिए किसी डॉरमेटरी की तरह एक कमरे में कई बेड हो सकते हैं। इस से आप को दूसरी जगहों के दिलचस्प लोगों से मिलने का मौका मिलता है। नई बातें जानने को मिलती हैं। किराया भी अधिक नहीं होता।

महत्वपूर्ण नंबर फ़ोन में सेव कर लें
फोन में जरूरी एप्स डाउनलोड कर लें। होटल, टैक्सी ड्राइवर और घरवालों का नंबर अपने फ़ोन में सेव रखें। जब भी अकेले घूमने जाएं तो घरवालों से संपर्क बना कर रखें। जिस शहर में जा रहे हैं यदि वहां कोई परिचित है तो यह यह आप के लिए काफी फ़ायदेमंद हो सकता है।